नमो नमो शंकरा – भजन (Namo Namo Shankara)

jambh bhakti logo

जय हो, जय हो शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
आदिदेव, शंकरा
हे शिवाय, शंकरा
तेरे जाप के बिना
भोलेनाथ, शंकरा
चले ये साँस किस तरह
हे शिवाय, शंकरा ।

मेरा कर्म तू ही जाने
क्या बुरा है, क्या भला
तेरे रास्ते पे मैं तो
आँख मूंद के चला
तेरे नाम को जोत से
सारा हर लिया तमस मेरा ।

नमो-नमो जी शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
जय त्रिलोकनाथ, शंभू
हे शिवाय, शंकरा
नमो-नमो जी, शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
रुद्रदेव, हे महेश्वरा ।

सृष्टी के जनम से भी
पहले तेरा वास था
ये जग रहे या ना रहे
रहेगी तेरी आस्था
क्या समय, क्या प्रलय
दोनों में तेरी महानता
महानता, महानता ।

सीपियों की ओंट में
भोलेनाथ, शंकरा
मोतियाँ हो जिस तरह
हे शिवाय, शंकरा
मेरे मन में, शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
तू बसा है उस तरह
हे शिवाय, शंकरा ।

मुझे भरम था जो है मेरा
था कभी नहीं मेरा
अर्थ क्या, निरर्थ क्या
जो भी है, सभी तेरा
तेरे सामने है झुका
मेरे सर पे हाथ रख तेरा ।

नमो-नमो जी शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
जय त्रिलोकनाथ, शंभू
हे शिवाय, शंकरा
नमो-नमो जी, शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
रुद्रदेव, हे महेश्वरा ।

चन्द्रमा ललाट पे
भस्म है भुजाओं में
वस्त्र बाघ-छल का
है खड़ाऊं पांव में
प्यास क्या हो तुझे
गंगा है तेरी जटाओं में
जटाओं में, जटाओं में ।

दूसरों के वास्ते
भोलेनाथ, शंकरा
तू सदैव ही जिया
हे शिवाय, शंकरा
माँगा कुछ कभी नहीं
भोलेनाथ, शंकरा
तूने सिर्फ है दिया
हे शिवाय, शंकरा ।

समुद्र मंथन का था
समय जो आ पड़ा
द्वंद्व दोनों लोक में
विषामृत पे था छिड़ा
अमृत सभी में बाँट के
प्याला विष का तूने खुद पिया ।

पापमोचनी एकादशी व्रत कथा (Papmochani Ekadashi Vrat Katha)

शिव अद्भुत रूप बनाए: भजन (Shiv Adbhut Roop Banaye)

मंत्र: णमोकार महामंत्र (Read Listen Namokar Maha Mantra)

नमो-नमो जी शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
जय त्रिलोकनाथ, शंभू
हे शिवाय, शंकरा ।

नमो-नमो जी, शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
रुद्रदेव, हे महेश्वरा ।

नमो-नमो जी शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
जय त्रिलोकनाथ, शंभू
हे शिवाय, शंकरा ।

नमो-नमो जी, शंकरा
भोलेनाथ, शंकरा
रुद्रदेव, हे महेश्वरा

रुद्रदेव, हे महेश्वरा
रुद्रदेव, हे महेश्वरा ॥

फ़िल्म: केदारनाथ
गायक: अमित त्रिवेदी

शिव चालीसा | लिङ्गाष्टकम् | शिव आरती | शिव भजन | शिव पंचाक्षर स्तोत्र | द्वादश ज्योतिर्लिंग मंत्र

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment