लागी लागी है लगन म्हाने श्याम नाम की: भजन (Lagi Lagi Hai Lagan Mahne Shyam Naam Ki)

jambh bhakti logo

लागी लागी है लगन,
म्हाने श्याम नाम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की,
म्हारे नैणा के झरोखें में है,
सूरत श्याम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की ॥

श्याम की धुन में मगन रवा म्हे,
नित सांवरिये का भजन करा म्हे,
है खुराक श्याम नाम माला,
सुबह शाम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की ॥

मिटे ना मिटाया प्रीत और गहरी हो गई,
प्रेम रोग लाग्यो मैं तो बन गई जोगी,
मैं तो रंगली म्हारी चुनड़ीया,
श्याम नाम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की ॥

ओरा ने बुलावा जद करे है बहानो,
श्याम ही जाणे सांचो साथ निभानो,
झूठी दुनिया की प्रीत,
‘गोलू’ काई काम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की ॥

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 33 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 33)

लोहट-हांसा को जाम्भोजी का अंतिम उपदेश

मन मोहन मूरत तेरी प्रभु: भजन (Mann Mohan Murat Teri Prabhu)

लागी लागी है लगन,
म्हाने श्याम नाम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की,
म्हारे नैणा के झरोखें में है,
सूरत श्याम की,
भागी भागी म्हारे हिवड़े ने,
यारी श्याम की ॥

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment