जय जगजननी माँ, भवानी मैय्या शारदा हो माँ: भजन (Jai Jag Janani Maa Bhawani Maiya Sharda Ho Maa)

jambh bhakti logo

जय जगजननी माँ,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
अंबे जगदंबे जगदंबिके,
जग की पालनहार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

नवदुर्गा माँ मंगलकारी,
सिंहसवारी सब पे भारी,
शक्तिशाली अपार,
भवानी मैय्या,
ऊंची पहाडी पे द्वार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

नवदुर्गे माँ नौरूप तेरे,
नौरंगी माँ नौरंग तेरे,
लिला अपरंपार,
ओ मैय्या तेरी,
महिमा अपरंपार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

अश्विन चैत्र महिना आवे,
नौरात्री के नौ दिन आवे,
मेला लगे तेरे द्वार,
भवानी मैय्या,
भगत करे जयकार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

भगतो की माँ सुनलो अरजीया,
दौडे दौडे आये मैय्या तेरी मढीयाँ,
धन के भरो भंडार,
भवानी मैय्या,
हरलो क्लेश विकार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

मेरे श्याम धणी की मोरछड़ी: भजन (Mere Shyam Dhani Ki Morchadi)

राम सीता और लखन वन जा रहे - भजन (Ram Sita Aur Lakhan Van Ja Rahe)

मेरा भोला है भंडारी: शिव भजन (Mera Bhola Hai Bhandari)

जय जगजननी माँ,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
अंबे जगदंबे जगदंबिके,
जग की पालनहार,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ,
जय जगजननी मां,
भवानी मैय्या शारदा हो माँ ॥

दुर्गा चालीसा | आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी | आरती: अम्बे तू है जगदम्बे काली | महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् | माता के भजन

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment