सुबह सुबह हे भोले – भजन (Subha Subha Hey Bhole)

jambh bhakti logo

सुबह सुबह हे भोले करते हैं तेरी पूजा,
तेरे सिवा हुआ है ना होगा कोई दूजा ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।

भोले तेरी जटा से बहती है गंगा धारा,
सारे जगत के मालिक, तू है पिता हमारा ।
निर्बल का तू ही बल है, देता है तू सहारा
तेरे सिवा जहां में, कोई नहीं हमारा ॥
हे भोले तू है जैसा, वैसा न कोई होगा,
तेरे सिवा हुआ है, ना होगा कोई दूजा ।

सुबह सुबह हे भोले करते हैं तेरी पूजा,
तेरे सिवा हुआ है ना होगा कोई दूजा ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।

सुख चैन मांगते हैं, जन्मो के हम भिखारी,
हमपे दया तू करना, आए शरण तिहारी ।
तेरे द्वार पे पड़े हैं, सुनले अरज हमारी,
झोली हमारी भरदे, शिव-शंकर-भंडारी ॥
भव सागर से पार करे, जो कोई नहीं है दूजा,
तेरे सिवा हुआ है, ना होगा कोई दूजा ।

सुबह सुबह हे भोले करते हैं तेरी पूजा,
तेरे सिवा हुआ है ना होगा कोई दूजा ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।

जिसकी लागी लगन भोलेनाथ से: भजन (Jiski Lagi Lagan Bholenath Se)

नृसिंह आरती ISKCON (Narasimha Aarti ISKCON)

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 3 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 3)

तुमको निहारते हैं, आँखों में है निराशा,
विश्वास है ये हमको पूरी करोगे आशा ।
बिगड़ी बना दो अपनी, दृष्टि दया की डालो,
भटके हुए हैं प्राणी, शिव जी हमे संभालो ॥
जब ते रहेंगे हर पल तुझको करते रहेंगे पूजा,
तेरे सिवा हुआ है, ना होगा कोई दूजा ।

सुबह सुबह हे भोले करते हैं तेरी पूजा,
तेरे सिवा हुआ है ना होगा कोई दूजा ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।
ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय ।

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment