राम जन्मभूमि पर जाकर, जीत के दीप जलाएंगे: भजन (Ram Janmabhoomi Par Jakar Jeet Ke Deep Jalayenge)

jambh bhakti logo

राम जन्मभूमि पर जाकर,
जीत के दीप जलाएंगे,
कलयुग के रावण अब भय से,
अपनी खैर मनाएंगे ॥

राम अयोध्या जब लौटे,
जले थे दीपक घर घर में,
सियाराम के जयकारे भी,
गूंज उठे थे अम्बर में,
जाके अयोध्या दिवाली में,
फुलझड़िया हम जलाएंगे,
कलयुग के रावण अब भय से,
अपनी खैर मनाएंगे ॥

देश के कोने कोने से जब,
भक्तो की टोली आएगी,
उनकी भक्ति की शक्ति से,
ये दुनिया अब थर्राएगी,
जय श्री राम का झंडा अब तो,
हर घर में लहराएगा,
कलयुग के रावण अब भय से,
अपनी खैर मनाएंगे ॥

राम जन्मभूमि पर जाकर,
जीत के दीप जलाएंगे,
कलयुग के रावण अब भय से,
अपनी खैर मनाएंगे ॥

तुलसी विवाह मंगलाष्टक (Tulsi Mangalashtak)

दर पे तुम्हारे सांवरे: भजन (Dar Pe Tumhare Saware)

आरती युगलकिशोर की कीजै (Aarti Shri Yugal Kishoreki Keejai)

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment