परदेस जा रहे हो, कैसे जियेंगे हम – भजन (Parades Ja Rahe Ho, Kaise Jiyenge Hum)

jambh bhakti logo

परदेस जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम,
कैसे जियेंगे हम कन्हैया,
कैसे जियेंगे हम,
दिल लेके जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम ॥

नैना बने हो आप ही,
काजल बने थे हम,
जब नैना ही बंद होंगे,
जब नैना ही बंद होंगे,
कैसे जियेंगे हम,
परदेस जा रहे हों,
कैसे जियेंगे हम ॥

मूरत बने थे आप ही,
मंदिर बने थे हम,
जब मंदिर ही बंद होंगे,
जब मंदिर ही बंद होंगे,
कैसे जियेंगे हम,
दिल लेके जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम ॥

चंदा बने थे आप ही,
चकवी बने थे हम,
जब चंदा ही ना रहा तो,
जब चंदा ही ना रहा तो,
कैसे जियेंगे हम,
दिल लेके जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम ॥

ऐसी क्या भूल हो गई,
मुझसे मेरे प्रीतम,
जब साँसे ना रही तो,
जब साँसे ना रही तो,
कैसे जियेंगे हम,
परदेस जा रहे हों,
कैसे जियेंगे हम ॥

मेरी माँ अंबे दुर्गे भवानी: भजन (Meri Maa Ambe Durga Bhawani)

जिनका मैया जी के चरणों से संबंध हो गया: भजन (Jinka Maiya Ji Ke Charno Se Sabandh Hogaya)

स्वस्ति / स्वस्तिक मंत्र (Swasti Mantra Or Swastivachan)

कैसी है प्रीति तेरी,
कैसी सजा दिया है,
जब प्राण ना रहे तो,
जब प्राण ना रहे तो,
कैसे जियेंगे हम,
परदेस जा रहे हों,
कैसे जियेंगे हम ॥

परदेस जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम,
कैसे जियेंगे हम कन्हैया,
कैसे जियेंगे हम,
दिल लेके जा रहे हो,
कैसे जियेंगे हम ॥

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment