लौट के आजा नंद के दुलारे – भजन (Laut Ke Aaja Nand Ke Dulare)

jambh bhakti logo

लौट के आजा नंद के दुलारे,
उम्मीद लगाए,
ना जाने मेरो,
लाला कब आए ॥

लौट के आजा नंद के दुलारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे ॥

अक्रूर आया मेरे दिल का,
वो टुकड़ा ले गया,
चांदनी चकोरी में,
चाँद का वो टुकड़ा ले गया,
दर्शन को तरसे,
दर्शन को तरसे,
नैन बिचारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे ॥

मधुवन है सुना सुना,
सुनी है सारी वो नगरीया,
प्यासे है व्याकुल नैना,
आ जाओ बांके ओ बिहारी,
यादो में तुम्हरी,
यादो में तुम्हरी रोए,
नैन हमारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे ॥

ॐ महाकाल के काल तुम हो प्रभो - भजन (Om Mahakal Ke Kal Tum Ho Prabhu)

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 7 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 7)

तेरे पावन माँ नवरात्रों में, ज्योत तेरी जगाए हुए हैं: भजन (Tere Paawan Maa Navratron Main Jyot Teri Jagaye Huye Hai)

लौट के आजा नंद के दुलारें,
मैया यशोदा तुझको पुकारे,
मैया यशोदा तुझको पुकारे ॥

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment