मैया आवेगी मैया आवेगी: भजन (Maiya Aavegi Maiya Aavegi)

jambh bhakti logo

मैया आवेगी मैया आवेगी,
सांचे मन से याद करोगा,
रुक ना पावेगी,
मईया आवेगी मईया आवेगी ॥

बुलावे टाबरिया,
या दौड़ी आवे है,
आंसुड़ा भक्ता का,
देख ना पावे है,
आके म्हारे सर पे या तो,
हाथ फिरावेगी,
सांचे मन से याद करोगा,
रुक ना पावेगी,
मईया आवेगी मईया आवेगी ॥

माँ की ममता को तो,
कोई भी मोल नहीं,
भेद ना भाव करे,
माँ सो कोई और नहीं,
मोह माया से आके म्हाने,
मैया बचावेगी,
सांचे मन से याद करोगा,
रुक ना पावेगी,
मईया आवेगी मईया आवेगी ॥

आंच ना आवेगी,
लाज ना जावेगी,
भरोसो कर ले तू,
या साथ निभावेगी,
‘सूरज’ कवे सुनी बगिया में,
फूल खिलावेगी,
सांचे मन से याद करोगा,
रुक ना पावेगी,
मईया आवेगी मईया आवेगी ॥

मईया आवेगी मईया आवेगी,
सांचे मन से याद करोगा,
रुक ना पावेगी,
मईया आवेगी मईया आवेगी ॥

तारा है सारा जमाना, श्याम हम को भी तारो - भजन (Tara Hai Sara Zamana, Shyam Hamko Bhi Taro)

भजहु रे मन श्री नंद नंदन - भजन (Bhajahu Re Mann Shri Nanda Nandan)

भोले की सवारी देखो आई रे: भजन (Bhole Ki Sawari Dekho Aayi Re)

दुर्गा चालीसा | आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी | आरती: अम्बे तू है जगदम्बे काली | महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् | माता के भजन

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment