झुमर झलके अम्बा ना, गोरा गाल पे रे: भजन (Jhumar Jhalke Amba Na Gora Gaal Pe Re)

jambh bhakti logo

झूमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे,
गोरा गाल पे रे,
लम्बा बाल पे रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

ऐ भई रे भई रे,
कुम्हारा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
दीवड़ा लई आवजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

ऐ भई रे भई रे,
सोनीड़ा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
झांझरिया लई आवजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

ऐ भई रे भई रे,
जोशीड़ा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
चुंदड़ी लई आवजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

ऐ भई रे भई रे,
मालीड़ा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
गजरा लई आवजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

ऐ भई रे भई रे,
ढोलीड़ा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
ढोल वगाडजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

छठ पूजा: पटना के घाट पर - छठ गीत (Patna Ke Ghat Par Chhath)

शिव आरती - ॐ जय गंगाधर (Shiv Aarti - Om Jai Gangadhar)

भक्ति का दीप मन में जलाये रखना: भजन (Bhakti Ka Deep Man Me Jalaye Rakhna)

ऐ भई रे भई रे,
वणजारा तने विनवु रे,
म्हारी माता सारू,
चुड़ला लई आवजो रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

झूमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे,
गोरा गाल पे रे,
लम्बा बाल पे रे,
झुमर झलके अम्बा ना,
गोरा गाल पे रे ॥

दुर्गा चालीसा | आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी | आरती: अम्बे तू है जगदम्बे काली | महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् | माता के भजन

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment