मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री – भजन (Meri Chunri Mein Pad Gayo Dag Ri)

jambh bhakti logo

मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मेरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों ॥

औरन को अचरा ना छुअत है,
औरन को अचरा ना छुअत है,
या की मोहि सो,
या की मोहि सो लग रही लाग री,
या की मोहि सो लग रही लाग री,
कैसो चटक रंग डारों,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों ॥

मो सो कहतो सुन्दर नारी,
मो सो कहतो सुन्दर नारी,
ये तो मोही सो,
ये तो मो हि सो खेले फाग री,
ये तो मो हि सो खेले फाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मेरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों ॥

बल बल दास आस ब्रज छोड़ो,
बल बल दास आस ब्रज छोड़ो,
ऐसी होरी में,
ऐसी होरी में लग जाये आग री,
ऐसी होरी में लग जाये आग री,
कैसो चटक रंग डारों,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों ॥

आज बिरज में होरी रे रसिया: होली भजन (Aaj Biraj Mein Hori Re Rasiya)

म्हारे सर पर है मैया जी रो हाथ: भजन (Mhare Sar Pe Hai Maiyaji Ro Hath)

राम का प्यारा है, सिया दुलारा है, हनुमान - भजन (Ram Ka Pyara Hai Siya Dulara Hai Hanuman)

मेरी चुनरी में पड़ गयो दाग री,
कैसो चटक रंग डारो,
श्याम मोरी चुनरी में पड़ गयों दाग री,
कैसो चटक रंग डारों ॥

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment