सब मिल कर मंगल गाओ, आज है जगराता: भजन (Sab Milkar Mangal Gao Aaj Hai Jagrata)

jambh bhakti logo

सब मिल कर मंगल गाओ,
आज है जगराता,
तुम प्रेम से माँ को मनाओ,
आज है जगराता ॥

जगराते में देखो गणपति आए है,
संग वो अपने रिद्धि सिद्धि को लाए है,
जिन्हे देख के मन मेरा है हरषाता,
तुम प्रेम से माँ को मनाओ,
आज है जगराता ॥

जगराते में देखो मोहन आए है,
संग वो अपने राधा को भी लाए है,
रूप मोहना इनका सबको है भाता,
तुम प्रेम से माँ को मनाओ,
आज है जगराता ॥

जगराते में ब्रह्मा विष्णु आए है,
संग अपने शिव शंकर को भी लाए है,
इनके चरणों का यश देखो जग गाता,
तुम प्रेम से माँ को मनाओ,
आज है जगराता ॥

सब मिल कर मंगल गाओ,
आज है जगराता,
तुम प्रेम से माँ को मनाओ,
आज है जगराता ॥

कामदा एकादशी व्रत कथा (Kamada Ekadashi Vrat Katha)

शिव भो शंम्भो शिव शम्भो स्वयंभो - मंत्र (Bho Shambho Shiva Shambho Swayambho)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 10 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 10)

दुर्गा चालीसा | आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी | आरती: अम्बे तू है जगदम्बे काली | महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् | माता के भजन

Picture of Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment