छठ पूजा: पटना के घाट पर – छठ गीत (Patna Ke Ghat Par Chhath)

jambh bhakti logo

पटना के घाट पर,
हमहु अरगिया देब,
हे छठी मइया,
पटना के घाट पर,
हमहु अरगिया देब,
हे छठी मइया,
हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया,
हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया ॥

सूप लेले ठाड़ बाड़े,
डोम डोमिनिया,
देखब ऐ छठी मैया,
ओरि सुपे अरग देवाइब,
देखब हे छठी मइया ॥

फूल लेले ठाड़ बाड़े,
मलिन मलिनिया,
देखब हे छठी मइया,
ओहि फुले हारवा गोथाइब,
देखब हे छठी मइया ॥

केला सेब नरियल किने,
गइनी हम बजरिया,
देखब हे छठी मइया,
ओहि जगह होता देरिया,
देखब हे छठी मइया ॥

भूल चूक हमरी मइया,
राखब धिआनिया,
देखब हे छठी मइया,
हमरो अरगिया देहब मान,
देखब हे छठी मइया ॥

पटना के घाट पर,
हमहु अरगिया देब,
हे छठी मइया,
हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया ॥

भजन - बोलो राम! मन में राम बसा ले (Bolo Ram Man Me Ram Basa Le Bhajan)

तूने सिर पे धरा जो मेरे हाथ के अब तेरा साथ नहीं छूटे: भजन (Tune Sir Pe Dhara Jo Mere Hath Ke Ab Tera Sath Nahi Chute)

कार्तिक संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत कथा (Kartik Sankashti Ganesh Chaturthi Vrat Katha)

हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया ॥

हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया ॥

हम ना जाइब दूसर घाट,
देखब ऐ छठी मइया ॥

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment