माँ का है जगराता, माँ को आज मनाएंगे: भजन (Maa Ka Hai Jagrata Maa Ko Aaj Manayenge)

jambh bhakti logo

माँ का है जगराता,
माँ को आज मनाएंगे,
जय माता दी बोल के,
सब जयकारे लाएंगे ॥

दिन आज खुशी का आया है,
माँ का दरबार सजाया है,
माँ के भक्तों माँ की महिमा,
सबको सुनाएंगे,
जय माता दी बोल के,
सब जयकारे लाएंगे ॥

ये वारे न्यारे करती है,
खुशियों से झोली भारती है,
माँ के दर से भक्त झोलियां,
भर ले जाएंगे,
जय माता दी बोल के,
सब जयकारे लाएंगे ॥

भक्तो ने धूम मचाई है,
नच नच के धूल उड़ाई है,
‘खन्ना’ माँ की महिमा गाके,
माँ को रिझाएंगे,
जय माता दी बोल के,
सब जयकारे लाएंगे ॥

माँ का है जगराता,
माँ को आज मनाएंगे,
जय माता दी बोल के,
सब जयकारे लाएंगे ॥

हाथ जोड़ विनती करू तो सुनियो चित्त लगाये - विनती भजन (Shyam Puspanjali Shri Khatu Shyamji Vinati)

महिमा तेरी समझ सका ना, कोई भोले शंकर - भजन (Mahima Teri Samjh Saka Na Koi Bhole Shankar)

गंगा की धारा का समराथल पर आगमन(Samrathl par Ganga ji)

दुर्गा चालीसा | आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी | आरती: अम्बे तू है जगदम्बे काली | महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् | माता के भजन

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment