बालाजी मने राम मिलन की आस – भजन (Balaji Mane Ram Milan Ki Aas)

jambh bhakti logo

बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद* मिलवाओगे ।
बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद मिलवाओगे ।

राम रटा था जब शबरी ने,
छोड़कें# आए रामनगरी ने ।
आए वह रघुनंदन के दास,
बतादो कद मिलवाओगे ।

बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद मिलवाओगे ।

सुग्रीव राजा ने जमाना,
तेरे कारण हुया याराना ।
ओ.. बाली की काटी सास+,
बतादो कद मिलवाओगे ।

बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद मिलवाओगे ।

रावण का वो भाई विभीषण,
रहा करें वह दिशा दक्षिण ।
अरे.. वो रहा राम के पास,
बतादो कद मिलवाओगे ।

विश्नोई पंथ एवं प्रहलाद भाग 1

कहकर तो देख माँ से, दुःख दर्द तेरे दिल के: भजन (Kah Kar To Dekh Maa Se Dukh Dard Tere Dil Ke)

भागवत कथा प्रसंग: कुंती ने श्रीकृष्ण से दुख क्यों माँगा? (Kunti Ne Shrikrishna Se Upahar Mein Dukh Kyon Manga)

बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद मिलवाओगे ।
बालाजी मने राम मिलन की आस,
बतादो कद मिलवाओगे ।

*कद = कब
#छोड़कें: छोड़कर
+सास: साँस / श्वांश

Sandeep Bishnoi

Sandeep Bishnoi

Leave a Comment