जाम्भोजी और रणधीर के प्रश्न 2. रणधीर ने पूछा- गुरुदेव ! प्रहलाद कौन था ? और उसको वरदान क्यों देना पड़ा ? उत्तर- भगवान बोले- रणधीर ! प्रहलाद हिरण्यकश्यपु का पुत्र था। वह बचपन से ही मेरी भक्ति करने लग गया। यह देखकर हिरण्यकश्यपु ने मना किया कि विष्णु की…

PicsArt 10 18 09.53.22 2

जांभोजि द्वारा किए गए प्रश्न बिश्नोई समाज के बारे में? जांभोजि द्वारा किए गए प्रश्न बिश्नोई समाज के बारे में? भगवान श्री जाम्भोजी और उनके परम शिष्य रणधीर जी का प्रश्नोत्तर दिया गया है जिसका…

गुरु आसन समराथल भाग 3 ( Samarathal Dhora ) गुरु आसन समराथल भाग 3 (Samarathal Dhora ) मेरे पास पापो का खण्डन करने के चार साधन है प्रथम नाद,वेद,शील,और शब्द। इन साधनो की महता बढ़ती है तो पाप भाग जाते है…

सेंसेजी का अभिमान खंडन भाग 3 सेंसेजी का अभिमान खंडन भाग 3 सैंसे भक्त के साथ उपस्थित जमाती के लोगों ने पूछा- हे गुरुदेव! इन चार युगों में कोई संसार सागर से पार पहुंचा या नहीं। जाम्भोजी ने उतर देते हुए कहा- जोधपुर नरेश…